1

स्टेट बैंक सदेव ही अपने उपभोक्ताओं के लिए जो व्यापार आरंभ या विकसित करना चाहते हैं, उन्हें लोन उपलब्ध कराने के लिए क्रियाशील रही है।

2

एसबीआई, SMEs के लिए PM मुद्रा योजना के अंतर्गत व्यापार विकास व आधुनिकरण के मार्ग को खोल रही है जिसका लाभ लाभार्थी आसानी से उठा सकता है।

3

– व्यापार में आधुनिकरण को बढ़ावा देना। – व्यवसाय का विस्तार व विकसित करना। – विनिर्माण को बढ़ावा देना। – गैर कॉर्पोरेट, गैर कृषि लघु व सूक्ष्म उद्योगों का आत्मनिर्भर व विकसित करना।

उद्देश्य

4

लोन की राशि: इस योजना के तहत लाभार्थी 50000 से 10,00000 तक की सीमा तक लोन ले सकते हैं।  यह सीमा आपकी योग्यता के आधार पर तय की जाती है। 

 विशेषताएं

5

प्रोसेसिंग फीस: यदि आप नए व्यापारी हैं और आपकी लोन राशि 50,000 से 5 लाख तक की है तो प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होगी।

 विशेषताएं

6

ब्याज दर: मुद्रा लोन की ब्याज दर एमसीएलआर से संबंध प्रतिस्पर्धी कीमत निर्धारण पर आधारित है, जो की 9% से 12% के बीच रहती है।

 विशेषताएं

7

चुकौती अवधि: आय अर्जन के आधार पर 6 माह के आस्थगन अवधि समेत 3 से 5 वर्ष में आपको लोन चुकाना होगा।

 विशेषताएं

8

एसबीआई मुद्रा लोन से के अन्य लाभ और अपनी पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया संबंधित सम्पूर्ण जानकारी के लिए रीड मोर पर क्लिक करे।